मेरी पुस्तक "मन दर्पण" का कवर - अप्रेल मध्य तक प्रकाशित होने की संभावना.

मेरी पुस्तक "मन दर्पण" का कवर - अप्रेल  मध्य तक प्रकाशित होने की संभावना.
मन दर्पण

मंगलवार, 28 मई 2013

शुद्धता.

शुद्धता


आज पानी की कमी है,

कोयला पानी की कमी है,

तेल पानी की कमी है,

ऊर्जा पानी की कमी है,


फिर कुछ काल बाद...

ऐसा इक दिन होगा ...

जलते जलते सूरज का ह्रास होने लगेगा,

ह्रास का दर बढेगा तब मानव चेतना जागेगी,

फिर एक वक्त धूप नहीं मिलेगी,

प्रदूषण की प्रवृत्ति के कारण,

शुद्ध हवा भी नहीं होगी...

लेकिन ...

दूषित वातावरण में रहने का आदि यह मानव,

जो आज ठीक  से शुदध घी, दूध पचा नहीं पाता,

कल शुद्ध धूप और हवा का भी सेवन नहीं कर पाएगा.

वैसे सुनने में यह अतिशयोक्ति लग सकती है,

पर दिल में झांक कर देखो, सामने अंधकार नजर आएगा.
================================================

एक टिप्पणी भेजें